Jharkhand: कोरोना टीकाकरण को लेकर लक्ष्य तय, 30 नवंबर तक रोजाना लगेंगे साढ़े तीन लाख डोज

[ad_1]

Sputnik Light Vaccine: रूसी स्पुतनिक लाइट कोविड- 19 वैक्सीन दिसंबर तक भारत में लॉन्च की जाएगी. इसकी जानकारी रशियन डारेक्ट इन्वेस्मेंट फंड के सीईओ किरिल दिमित्रीव ने दी है. इसमें बताया गया है कि इस एक डोज वाली स्पुतनिक लाइट वैक्सीन क्लिनिकल ट्रायल के बीच में है. इस महीने के आखिर में परीक्षण के परिणाम के साथ इसे डीसीजीआई को सौंप दिया जाएगा. उसके बाद इसकी अनुमति का इंतजार रहेगा. इसके बाद दिसंबर माह में इसे लॉन्च किया जाएगा. 

वहीं, भारत सरकार ने 10 अक्टूबर को देश में बन रही रूस की सिंगल डोज वाली वाले कोविड-19 रोधी वैक्सीन स्पुतनिक लाइट के निर्यात की इजाजत दे दी थी. बताया गया था कि भारतीय दवा कंपनी हेटेरो बायोफार्मा लिमिटेड को रूस को स्पुतनिक लाइट की 40 लाख डोज निर्यात करने की अनुमति दी गई है. स्पुतनिक लाइट रूसी वैक्सीन स्पुतनिक वी के घटक -1 के समान है. भारत में अभी तक दो डोज वाली स्पूतनिक का इस्तेमाल किया जा रहा था. हैदराबाद में मौजूद डॉ रेड्डीज लैब की इस वैक्सीन को भारत में लाने की जिम्मेदारी है.  

गौरतलब है कि भारत में कोविशिल्ड, कोवैक्सीन के अलावा स्पूतनिक वी ही कोरोना वैक्सीन का तीसरा टीका है, जिसे भारत में इस्तेमाल करने की इजाजत दी गई है. जुलाई माह में स्पुतनिक लाइट वैक्सीन के आपात इस्तेमाल की मंजूरी के लिए की गई सिफारिश को सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (CDSCO) की विषय विशेषज्ञ समिति ने खारिज कर दिया था. समिति की ओर से कहा था कि इस वैक्सीन का देश की आबादी पर ट्रायल नहीं हुआ है, ऐसे में इसकी अनुमति नहीं दी जा सकती है.

Cabinet Meeting: तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने वाले प्रस्ताव को मंजूरी, केंद्रीय कैबिनेट का फैसला

UP Election 2022: लखनऊ में अखिलेश से मिले सांसद संजय सिंह, क्या RLD के बाद अब AAP से भी हाथ मिलाने को हैं तैयार!



[ad_2]

Source link

Leave a Reply