अटल पेंशन योजना बहुत तेजी से लोकप्रिय हो रही है. इस योजना के तहत 60 साल का होने पर हर महीने 1000 से लेकर 5000 रुपए की पेंशन मिलती है.

यह योजना लोगों को कितनी पसंद आ रही है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसमें अब तक 2.75 करोड़ से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं.

कौन उठा सकता है इसका लाभ?

  • 18 साल से 40 साल तक का व्यक्ति इसमें निवेश कर सकता है.
  • इस स्कीम लेने पर इसमें कम से कम 20 साल निवेश करना होगा.
  • सेविंग बैंक अकाउंट, आधार और एक्टिव मोबाइल नंबर इस स्कीम में शामिल होने के लिए जरूरी है.

योजना की खास बातें

  • सब्स्क्राइबर जितना ज्यादा कंट्रीब्यूशन करेगा, उसे रिटायरमेंट के बाद उतनी ही ज्यादा पेंशन मिलेगी.
  • 1 से 5 हजार रुपए प्रतिमाह पेंशन लेने के लिए 42 से लेकर 210 रुपए प्रतिमाह तक भुगतान करना होगा. यह 18 साल की उम्र में स्कीम लेने पर होगा.
  • अगर कोई सब्स्क्राइबर 40 साल की उम्र में स्कीम लेता है तो उसे 291 से लेकर 1454 रुपए प्रतिमाह तक का मंथली कंट्रीब्यूशन करना होगा.
  • निवेशक सेक्शन 80सी के तहत 1.5 लाख रुपए तक टैक्स बेनीफिट क्लेम कर सकेंगे.
  • इस योजना में अपनी सुविधा के अनुसार किस्त दे सकते हैं. मंथली, क्वाटरली या सेमी-एनुअल यानी 6 माह की अवधि में किस्त दी जा सकती है.
  • किस्त ऑटो-डेबिट हो जाएगी. आपके अकाउंट से तय राशि अपने आप कट जाएगी और आपके पेंशन खाते में जमा हो जाएगी.

ऐसे खोल सकते हैं अकाउंट

  • किसी भी बैंक में जाकर अकाउंट ओपन करवाया जा सकता है.
  • अटल पेंशन योजना के फॉर्म भरना होगा और जरूरी डॉक्यूमेंट्स के साथ बैंक ब्रांच में जमा करना होगा.
  • एप्लीकेशन अप्रूवड होने के बाद आपके पास कंफर्मेशन का मैसेज आएगा.

ऑनलाइन ऐसे खोले खाता

  • एसबीआई खाता धाररक नेट बैंकिंग के जरिए ऑनलाइन भी खाता खुलवा सकते हैं.
  • सबसे पहले SBI में लॉग इन करें और फिर e-Services लिंक पर क्लिक करें.
  • नया विंडो खुल जाएगा और इस पर सोशल सिक्युरिटी स्कीम नाम का एक लिंक होगा जिसे क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद आपको 3 विकल्प दिखेंगे, PMJJBY/PMSBY/APY. आपको APY यानी अटल पेंशन योजना पर क्लिक करना होगा.
  • उसके बाद अकाउंट नंबर, नाम, उम्र और पता आदि की जानकारी देनी होगी.
  • पेंशन के विकल्प चुनने होंगे. मसलन 5000 रुपए या 1000 रुपए मंथली.
  • उसके बाद आपकी उम्र के आधार पर आपका मंथली कंट्रीब्यूशन तय हो जाएगा.

यह भी पढ़ें:

शाम के बाद Madhubala के पिता नहीं करने देते थे शूटिंग, कई और भी बंदिशों में बिताया जीवन, छोटी बहन ने खोले कई राज़

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Bnews. : Publisher

Leave a Reply