आज मनाया जाएगा संविधान दिवस


Constitution Day: देश में आज के दिन यानि, 26 नवंबर को संविधान दिवस के तौर पर मनाया जाता है. सन्न 1949, 26 नवंबर को संविधान सभा ने हमारे संविधान को विधिवत तरीके से अपनाया था. हालाकि, इसे लागू 1950, 26 जनवरी को दिया गया था. 

बता दें, इस दिन को राष्ट्रीय कानून दिवस के तौर पर भी देखा जाता है. भारतीय संविधान की खासियत ये है कि ये विश्व का सबसे लंबा लिखित संविधान है. वहीं, आज इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संविधान दिवस समारोह में भाग लेंगे. संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में संविधान दिवस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे. साथ ही विज्ञान भवन में सुप्रीम कोर्ट द्वारा आयोजित संविधान दिवस समारोह का भी उद्घाटन करेंगे. 

2015 से संविधान दिवस मनाना शुरू हुआ

राष्ट्र आज संविधान दिवस मनाएगा. बताते चले, संविधान दिवस को मनाना 2015 में शुरू किया था जो इस ऐतिहासिक तिथि के महत्त्व को उचित मान्यता देने के प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण पर आधारित है. इस दृष्टिकोण का आधार 2010 में गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आयोजित “संविधान गौरव यात्रा” में निहित हो सकता है. इस वर्ष संविधान दिवस समारोह के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज संसद और विज्ञान भवन में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में भाग लेंगे.

संसद में आयोजित कार्यक्रम सुबह 11 बजे से शुरू होगा. कार्यक्रम संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में आयोजित होगा. कार्यक्रम को राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और लोकसभा अध्यक्ष संबोधित करेंगे. अपने भाषण के बाद राष्ट्रपति संविधान की प्रस्तावना को पढ़ेंगे जिसका लाइव प्रसारण किया जाएगा. राष्ट्रपति संविधान सभा में हुए बहस व चर्चाओं का डिजिटल संस्करण, भारत के संविधान की सुलेखित प्रति का डिजिटल संस्करण और भारत के संविधान के अद्यतन संस्करण का भी विमोचन करेंगे जिसमें अब तक के सभी संशोधन शामिल होंगे. वह ‘संवैधानिक लोकतंत्र पर ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी’ का भी उद्घाटन करेंगे.

कार्यक्रम कुछ इस प्रकार होगा

1- सुबह 10.55 बजे राष्ट्रपति संसद भवन पहुंचेंगे.

2- सुबह 11 बजे राष्ट्रगान होगा जब राष्ट्रपति अपनी सीट पर पहुंचेंगे.

3- सुबह 11.01 बजे संसदीय कार्य मंत्री का संबोधन होगा.

4- सुबह 11.05 बजे लोकसभा के स्पीकर का संबोधन होगा.

5- सुबह 11.11 बजे पीएम मोदी का संबोधन होगा.

6- सुबह 11.26 बजे उपराष्ट्रपति का संबोधन होगा.

7- सुबह 11.41 बजे राष्ट्रपति संविधान सभा में हुए बहस व चर्चाओं का डिजिटल संस्करण, भारत के संविधान की सुलेखित प्रति का डिजिटल संस्करण और भारत के संविधान के अद्यतन संस्करण का भी विमोचन करेंगे जिसमें अब तक के सभी संशोधन शामिल होंगे. वह ‘संवैधानिक लोकतंत्र पर ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी’ का भी उद्घाटन करेंगे.

8- सुबह 11.50 बजे राष्ट्रपति का संबोधन होगा.

9- दोपहर 12.10 बजे राष्ट्रपति संविधान की प्रस्तावना को पढ़ेंगे.

यह भी पढ़ें.

 Delhi Pollution: फरवरी 2025 तक साफ होगी यमुना, जानिए नदी की सफाई के लिए सीएम केजरीवाल का एक्शन प्लान

…तो भूख हड़ताल करूंगा, Navjot Sidhu का अपनी ही सरकार के खिलाफ नया एलान



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here