दिल्ली टू हावड़ा वाया बिहार चलेगी डबल डेकर ट्रेन, किराया भी होगा कम, जानें क्या होगा रूट

पटना. भारतीय रेलवे लगातार उत्तर प्रदेश, बिहार व झारखंड जैसे पूर्वी राज्यों में सुवाधाएं बढ़ाने की कई कार्य योजनाओं पर काम कर रहा है. इसी के तहत बिहार के गया, राजेंद्र नगर टर्मिनल, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय, सीतामढ़ी, दरभंगा व बरौनी रेलवे स्टेशनों को विश्वस्तरीय बनाने की कवायद शुरू हो चुकी है. वहींबिहारवासियों के लिए एक सुखद समाचार है कि साल भर के भीतर पटना से डबल डेकर ट्रेन गुजरेगी. केंद्र सरकार की इस योजना पर तेजी से काम चल रहा है. फिलहाल अभी इस ट्रेन को लखनऊ से नई दिल्ली और नई दिल्ली से जयपुर के बीच चलाई जा रही है. लेकिन, बहुत जल्द दिल्ली से पटना, दिल्ली से हावड़ा वाया बिहार सहित अन्य रेल खंडों पर भी इसका परिचालन किया जाएगा.

लखनऊ मंडल से मिली जानकारी के आधार पर मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार फिलहाल अभी इस ट्रेन को लखनऊ से नई दिल्ली और नई दिल्ली से जयपुर के बीच चलाइ जा रही है. लेकिन बहुत जल्द दिल्ली से पटना, दिल्ली से हावड़ा वाया बिहार सहित अन्य रेल खंडों पर भी डबल डेकर ट्रेन चलाया जाएगा. यह जानकारी भी सामने आई है कि जल्दी ही डबल डेकर ट्रेन कार्ययोजना को रेलवे बोर्ड हरी झंडी दे देगा. इसके बाद शीघ्र ही इसके संचालन पर कार्य किया जाएगा.

गौरतलब है कि लगभग पिछले 2 साल से बंद पड़े डबल डेकर ट्रेन का संचालन करने की सारी तैयारियां पूरी की जा चुकी है. हालांकि, कोरोना संक्रमण के मामले के देखते हुए केवल रेलवे बोर्ड की अनुमति की प्रतीक्षा की जा रही है. बता दें कि लखनऊ से आनंद विहार टर्मिनल को जाने वाली डबल डेकर ट्रेन 8 घंटे का समय लेती है, तेजस और शताब्दी एक्सप्रेस 6.30 घंटे के अंदर ही लखनऊ से दिल्ली पहुंचती है. लेकिन किराया के मामले में यह डबल डेकर ट्रेन किफायती साबित होगी.

यहां यह भी बता दें कि लखनऊ से चलने वाली शताब्दी तथा तेजस एक्सप्रेस का किराया अधिक है. शताब्दी एक्सप्रेस का किराया 1400 से लेकर 2400 तक है. वहीं तेजस एक्सप्रेस का किराया 2000 से अधिक है. ऐसे में डबल डेकर इन दोनों ट्रेनों को यह ट्रेन टक्कर दे सकती है. क्योंकि डबल डेकर ट्रेन का लखनऊ से आनंद विहार टर्मिनल के लिए डेढ़ साल पहले का किराया महज ₹645 था. इसलिए अब भी इसमें बहुत वृद्धि नहीं होगी.

आपके शहर से (पटना)

Bihar News

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Bnews. Publisher:
News Publisher link

Leave a Reply