Bhaskar Hindi

डिजिटल डेस्क, काबुल। स्थानीय रिपोर्टों में कहा गया है कि अफगानिस्तान में पंजशीर के प्रवेश द्वार गुलबहार इलाके में तालिबान और अहमद मसूद के नेतृत्व में प्रतिरोध बलों के बीच भारी लड़ाई चल रही है। स्वतंत्र पत्रकार नातीक मलिकजादा के अनुसार, झड़प में तालिबान ने गुलबहार रोड को पंजशीर से जोड़ने वाले पुल को उड़ाने की अपुष्ट खबरें हैं।

 

 

एक दिन पहले सोमवार को पंजशीर घाटी में हुई एक लड़ाई में सात-आठ तालिबान लड़ाके मारे गए थे। अहमद मसूद के प्रवक्ता फहीम दश्ती ने कहा कि तालिबान ने सोमवार रात पंजशीर पर हमला किया। उन्होंने कहा कि इस घटना में दोनों पक्षों को चोटें आईं जबकि सात-आठ तालिबान लड़ाके मारे गए।

रविवार को तालिबान ने पंजशीर में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दीं थी ताकि पंजशीर की सेना में शामिल हुए पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह को ट्विटर पर अपने संदेश शेयर करने से रोका जा सके।

पंजशीर एकमात्र अफगानिस्तान प्रांत है जो अभी तक तालिबान के हाथों में नहीं आया है। कई तालिबान विरोधी पंजशीर में जमा हो गए हैं। प्रसिद्ध अफगान विद्रोही कमांडर अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद इस समय अमरुल्ला सालेह के साथ पंजशीर घाटी में हैं।

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Bnews. : Publisher

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *