नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन से बात की और उन्हें कांस्य पदक जीतने पर बधाई दी. पीएम मोदी ने उनसे कहा कि उनकी जीत हमारी नारी शक्ति की प्रतिभा और तप का प्रमाण है. उन्होंने यह भी कहा कि उनकी सफलता हर भारतीय के लिए और विशेष रूप से असम और पूर्वोत्तर के लिए बहुत गर्व की बात है.

आपको बता दे 23 वर्ष की छोटी से उम्र में  लवलीना ओलम्पिक जीतने वाली तीसरी खिलाड़ी बन गयी है. उससे पहले ये कमा बॉक्सर विजेंदर और मेरीकॉम कर चुकी है.

लवलीना ने अपने पहले ही ओलम्पिक में ये कमाल कर दिखाया है, हालाँकि वे गोल्ड या सिल्वर मेडल जीतने के लिए ज़िद ठाने बैठी थी. लेकिन आज जब वे दुनिया की नम्बर वन खिलाड़ी बुसानेज सुरमेनेली से हार गयीं. 

लवलीना ने एबीपी न्यूज के साथ खास बातचीत में कहा है कि वह सेमीफाइनल मुकाबले में बेहतर प्रदर्शन कर सकती थीं. लवलीना ने कहा, ”मेडल जीतकर अच्छा लग रहा है. लेकिन जितना सोचा था उतना नहीं हो पाया. फिर भी मेडल मिला, देश के लिए मैं मेडल हासिल कर पाई. इसे लेकर मैं खुश हूं.”

इस मुक़ाबले में वे 2019 की विश्व चैम्पियन तुर्की की सुरमेनेली से 0-5 से पराजित हो गयी.  हालाँकि बॉक्सिंग के जानकारों कि मानना है कि लवलीना का भविष्य बहुत उज्ज्वल है. लवलीना की नज़रें टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल पर थी. लेकिन क्वार्टर फाइनल और सेमीफाइनल में लवलीना का मुकाबला वर्ल्ड चैंपियन खिलाड़ियों के साथ हुआ. लवलीना ने एबीपी न्यूज से अपनी तैयारियों के बारे में भी बात की है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे ओलम्पिक दल को 15 अगस्त पर लाल क़िले की प्राचीर पर आमंत्रित किया है, दिन में  बाद में वे खिलाड़ियों को अपने सरकारी आवास 7 लोक कल्याण मार्ग पर आमंत्रित करेंगे, इनमें लवलीना भी शामिल होगी. 

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Bnews. : Publisher

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *