नई दिल्ली: नए कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी की सबसे बड़ी कमिटी सीडब्ल्यूसी की बैठक शुक्रवार 22 जनवरी को सुबह 10.30 बजे बुलाई गई है. यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी. सूत्रों के मुताबिक बैठक में संगठनात्मक चुनाव और मौजूदा राजनीतिक हालात, जिसमें किसान आंदोलन और एक विवादित वरिष्ठ संपादक के व्हाट्सएप चैट लीक कांड जैसे मुद्दे शामिल हैं, उन पर चर्चा की जाएगी.

हाल ही में कांग्रेस पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण ने अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक नोट सौंपा है कि वे चुनाव के लिए तैयार हैं. उसके बाद सीडब्ल्यूसी सदस्यों के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए यह बैठक बुलाई गई है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने बीते अगस्त महीने में सोनिया गांधी को एक पत्र लिखा था, जिसमें ब्लॉक से लेकर पार्टी अध्यक्ष पद तक पर चुनाव कराए जाने की मांग की गई थी.

इस चिट्ठी के बाद पार्टी में बवाल खड़ा हो गया था और फिर आनन-फानन में सीडब्ल्यूसी की बैठक बुलाई गई थी, जिसमें सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश कर दी थी. तब तय हुआ था कि नए अध्यक्ष का चुनाव छह महीने के भीतर होंगे. हालांकि इसके बाद भी बीच-बीच में गुलाम नबी आजाद, कपिल सिब्बल जैसे वरिष्ठ कांग्रेस नेता के बागी तेवर सामने आते रहे.

इन्हें मिली कमान

इन सबके बीच कांग्रेस पार्टी में आंतरिक चुनाव के लिए जिम्मेदार केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण का पुनर्गठन कर मधुसूदन मिस्त्री को इसकी कमान दी गई. बीते कुछ महीनों में उन्होंने पूर्णकालिक पार्टी अध्यक्ष के मध्यावधि चुनाव के मद्देनजर अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्यों की सूची अपडेट कर ली है, जो इस चुनाव में मतदान करेंगे. अध्यक्ष के साथ ही सीडब्ल्यूसी सदस्यों का चुनाव भी करवाया जा सकता है.

सूत्रों का कहना है कि सीडब्ल्यूसी की बैठक में पार्टी अध्यक्ष सहित संगठन चुनाव की प्रक्रिया और चुनाव की तारीखों की घोषणा की जा सकती है. अध्यक्ष पद पर राहुल गांधी की वापसी की संभावना जताई जा रही है लेकिन इसे लेकर सस्पेंस बरकरार है.

यह भी पढ़ें:
UP: पंचायत चुनाव के जरिए 2022 की तैयारियों का आकलन करेगी कांग्रेस
सैन्य अभियान की गोपनीय सूचना लीक करना राजद्रोह, जिसने किया उसे सजा मिले: कांग्रेस

Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Bnews. : Publisher

Leave a Reply