DDMA के साथ मीटिंग में बोले दिल्ली के डिप्टी सीएम सिसोदिया, पहले से काफी बेहतर स्थिति में हम


Meeting Amid New Covid Variant: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के द्वारा घोषित नए वैरिएंट ऑफ कंसर्न को लेकर जारी अनिश्चितता और आशंकाओं के बीच दिल्ली के उपमुख्य मंत्री मनीष सिसोदिया ने DDMA के साथ मीटिंग की है.  इस नए वैरिएंट का नाम Omnicron है.  इस वैरिएंट के अभी तक दुनिया में बहुत कम केस पाए गए हैं. क्योंकि यह एक नया वैरिएंट है और इसका दुनिया भर में फैलाव अभी बहुत सीमित है. इसके इम्पैक्ट क्या है इसको लेकर भी अनिश्चितता बनी हुई है. यह कैसे रिएक्ट कर रहा है सब लोग दुनिया भर में इसको लेकर चिंतित है. 

भारत सरकार के एक्सपर्ट्स ने इसको लेकर जितनी भी जानकारी दी है उसके बारे में डीडीएमए को अवगत कराया है और कहा है कि हम इसपर नजर रखे हुए हैं. सरकार भी इस पर नजर रखेगी लेकिन अपनी तैयारियों में हम कोई कोताही नहीं रखेंगे वैरिएंट कितना घातक है या नहीं, वैक्सीन पर इसका कितना असर पड़ रहा है या नहीं पड़ रहा यह सब बातें आने वाले कुछ समय में साफ होंगी.

हमारी तैयारी यह है कि अगर किसी भी कारण से मामले बढ़ते हैं तो उस वक्त कितने बेड्स की जरूरत पड़ेगी,  कैसे पड़ेगी.  इस वर्ष अप्रैल, मई और जून के अनुभव को देखते हुए दिल्ली सरकार पहले से तैयारी कर रही है और हमने रामलीला मैदान व दिलशाद गार्डन में जो एक्स्ट्रा फैसिलिटी बनाई गई थी. बाकी सब जगह भी हमारी एक्स्ट्रा बेड्स फैसिलिटी अलर्ट पर हैं. डेंगू के चलते बेड कुछ कम हुए थे लेकिन डेंगू कम होने के बाद हम वापस बेड्स को शिफ़्ट करेंगे.

इससे पहले मीडिया से बात करते हुए उप-मुख्यमंत्री सिसोदिया ने कहा था कि हम चीजों को हल्के में नहीं ले सकते  हैं. हमने पिछले वर्ष से इस वर्ष सबक सीखा है. इस समय आने वाली किसी भी संभावित कोविड-19 की लहर से निपटने के लिए पूर्ण रूप से तैयार हैं. कोविड के प्रबंधन, जानकारी और बुनियादी संसाधनों की उपस्थिति के कारण हम पहले से अधिक मजबूत स्थिति में है.

Mehul Choksi Fear: भगोड़े मेहुल चोकसी को सता रहा है दोबारा किडनैपिंग का डर, कहा- मेरी खराब सेहत कुछ भी करने की इजाजत नहीं देती

PF सब्सक्राइबर्स हों अलर्ट! 30 नवंबर तक ये काम नहीं किया तो होगी बड़ी परेशानी



Source link

Leave a Reply