Maharashtra Corona: दक्षिण अफ्रीका से महाराष्ट्र लौटा शख्स कोरोना संक्रमित


South Africa Returned Person Update: दक्षिण अफ्रीका से महाराष्ट्र के ठाणे जिले के डोम्बीवली में लौटे एक व्यक्ति में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. कल्याण-डोम्बीवली नगर निगम (केडीएमसी) के एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी. केडीएमसी के अधिकारी के मुताबिक, कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए व्यक्ति में ओमीक्रोन स्वरूप की पुष्टि नहीं हुई है. 

अधिकारी के मुताबिक, एक व्यक्ति 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन शहर से डोम्बीवली आया था. उसकी कोविड-19 जांच की गयी, जिसमें वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया. केडीएमसी की चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रतिभा पानपाटिल के मुताबिक, दक्षिण अफ्रीका से लौटने के बाद व्यक्ति किसी के संपर्क में नहीं आया है. कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए व्यक्ति को केडीएमसी के आर्ट गैलरी पृथक-वास केन्द्र में भर्ती कराया गया है.

चंडीगढ़ में भी एक शख्स संक्रमित मिला

वहीं, इसके अलावा सोमवार को चंडीगढ़ में भी दक्षिण अफ्रीका (South Africa) से कुछ दिन पहले लौटे एक व्यक्ति में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई. चंडीगढ़ प्रशासन ने यह जानकारी दी. चंडीगढ़ प्रशासन ने बताया कि अब संक्रमित शख्स के नमूने जीनोम अनुक्रमण के लिए दिल्ली भेजे जाएंगे. उनके परिवार का एक सदस्य और घरेलू सहायिका भी संक्रमित पाए गए हैं. संक्रमित पाया गया शख्स दक्षिण अफ्रीका से 21 नवंबर को लौटा था. शख्स की उम्र 39 साल है.

पहले व्यक्ति की आरटी-पीसीआर जांच रिपोर्ट निगेटिव थी. हालांकि, दोबारा की गई जांच सोमवार को पॉजिटिव आई. बयान में कहा गया, ”पूर्व में जारी बयानों के क्रम में, यह सूचित किया जाता है कि दक्षिण अफ्रीका से लौटे 39 वर्षीय निवासी में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. उनके परिवार का एक सदस्य और घरेलू सहायिका भी संक्रमित पाए गए हैं. इन संक्रमित नमूनों को जीनोम अनुक्रमण परीक्षण के लिए दिल्ली की प्रयोगशाला भेजा जाएगा.”

भारत में ओमीक्रोन का कोई मामला नहीं, लेकिन चिंताएं बढ़ीं

भारत में अभी तक कोरोना वायरस के नये स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ का कोई मामला सामने नहीं आया है, लेकिन कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री ने सोमवार को कहा कि हाल ही में दक्षिण अफ्रीका से लौटे दो लोगों में से एक का नमूना “डेल्टा स्वरूप से अलग” प्रतीत होता है. 

डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि यह ‘‘अभी तक स्पष्ट नहीं है’’ कि क्या नया स्वरूप अधिक संक्रामक है या अधिक गंभीर बीमारी का कारण बनता है, लेकिन भारत में राज्यों के अधिकारियों ने नयी स्थिति से निपटने के प्रयास तेज कर दिये हैं. 

नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि निर्धारित अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवाओं को फिर से शुरू करने पर “किसी भी आगे के फैसले” के संबंध में अन्य मंत्रालयों के परामर्श से स्थिति पर बारीकी से नजर रखी जा रही है.

केंद्र सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दिल्ली में नए स्वरूप के संस्करण का कोई मामला सामने नहीं आया है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के सकारात्मक नमूनों के जीनोमिक विश्लेषण के परिणामों में तेजी लाई जा रही है.

यह भी पढ़ें.

12 Rajya Sabha MPs Suspended: कांग्रेस, शिवसेना, TMC, CPI और CPM के 12 राज्यसभा सांसद मौजूदा शीतकालीन सत्र से निलंबित

Farm Laws Repeal Bill: कृषि कानूनों की वापसी पर संसद की मुहर, विपक्ष के भारी शोर-शराबे के बीच दोनों सदनों से पास हुआ बिल



Source link

Leave a Reply