Uttarakhand: भारतीय वन अनुसंधान में हुआ कोरोना विस्फोट, 11 IFS अधिकारी पाए गए संक्रमित


IFS Officers Corona Positive: भारतीय वन अनुसंधान केंद्र में एक बार फिर कोरोना वायरस के कई मामले सामने आए हैं. यहां 11 आईएफएस (IFS) ऑफिसर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. मामले मिलने के बाद भारतीय वन अनुसंधान केंद्र के पुराने हॉस्टल को सील कर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया. डीएम आर राजेश कुमार ने कहा कि दिल्ली से 48 आईएफएस अधिकारी ट्रेनिंग के लिए आए थे, जिसमें से 11 कोविड-19 संक्रमित पाए गए हैं. देहरादून के जिलाधिकारी आर राजेश कुमार ने जानकारी दी कि यह सभी आईएफएस अधिकारी सड़क मार्ग द्वारा देहरादून ट्रेनिंग करने पहुंचे हैं.

डीएम देहरादून ने कहा कि लखनऊ से दिल्ली और दिल्ली से देहरादून सड़क मार्ग द्वारा यह पहुंचे हैं. वहीं, आईएफएस अधिकारियों के बारे में जानकारी देते हुए डीएम ने कहा कि यह दिल्ली में पॉजिटिव हो गए थे लेकिन यह बस में बैठकर सीधा देहरादून के एफआरआई इंस्टिट्यूट में पहुंचे हैं. डीएम आर राजेश कुमार ने बताया कि इस बारे में देहरादून प्रशासन को कोई जानकारी नहीं दी गई इसलिए इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.इसके अलावा 5 अन्य लोग भी कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं. कुल 17 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं.

राज्य में कोविड के मामलों में हुआ इज़ाफा

बता दें कि उत्तराखंड में एक बार फिर से कोविड के मामलों में इज़ाफा होने लगा है, जिसके चलते सावधानी बरतने और सीमाओं पर चौकसी बरतने के निर्देश दिए जा रहे हैं. इसके अलावा भारतीय वन अनुसंधान केंद्र में आज आए कोविड-19 मामलों ने एक बार फिर देवभूमि के लोगों की चिंता बढ़ा दी है.

ये भी पढ़ें :-

UP Election 2022: मायावती को लगा बड़ा झटका, एक और विधायक ने छोड़ा पार्टी का दामन

UP Election 2022: राजनाथ सिंह ने कहा, नरेंद्र मोदी जैसी चिंता किसी दल का कोई नेता नहीं करता



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here